जल्लीकट्टू : अनशन पर बैठे द्रमुक के कार्यकारी अध्यक्ष

चेन्नई, जल्लीकट्टू पर लगे प्रतिबंध को स्थायी रूप से हटाने की मांग को लेकर आज द्रमुक के विधायक, सांसद और कार्यकर्ता पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष एम के स्टालिन की अगुवाई में यहां अनशन पर बैठे।

विभिन्न जिलों के द्रमुक कार्यकर्ता और पार्टी पदाधिकारी भी यहां अनशन पर बैठे हैं।

द्रमुक ने कहा कि जल्लीकट्टू का आयोजन बिना किसी बाधा के हो सके, यह सुनिश्चित करने के लिए वे कोई स्थायी उपाय चाहते हैं। स्टालिन ने कल मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम की घोषणा का स्वागत किया था जिसमें उन्होंने कहा था कि राज्य सरकार जल्लीकट्टू को मंजूरी देने के लिए पशु क्रूरता रोकथाम अधिनियम में संशोधन के लिए अध्यादेश जारी करेगी। हालांकि उन्होंने जोर देकर कहा कि केंद्र को ‘‘प्रदर्शन के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले जानवरों’’ की सूची से सांड़ों को स्थायी रूप से हटा देना चाहिए ताकि राज्य में खेल का वाषिर्क आयोजन किया जा सके।