सभी पक्ष चर्चा के लिए तैयार होने का कर रहे दावा : फिर भी नहीं हो रही चर्चा

नयी दिल्ली,  नोटबंदी के मुद्दे पर चर्चा को लेकर एक दूसरे को चुनौती दे रहे विपक्ष और सत्ता पक्ष के हंगामे के कारण आज भी लोकसभा की कार्यवाही नहीं चल पायी। दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर चर्चा से भागने का आरोप लगाया।

विपक्ष के साथ ही सत्ता पक्ष ने भी कहा कि वे आज ही इस मुद्दे पर सदन में चर्चा के लिए तैयार हैं लेकिन इसके बावजूद कोई चर्चा नहीं हुई और दोनों पक्षों के भारी हंगामे के कारण सदन की कार्यवाही एक बार के स्थगन के बाद दोपहर करीब सवा 12 बजे दिनभर के लिए स्थगित कर दी गयी।

इस मुद्दे पर भारी हंगामे के कारण एक बार के स्थगन के बाद सदन की कार्यवाही 12 बजे फिर से शुरू होने के बाद कांग्रेस नेता मल्लिकाजरुन खड़गे ने कहा कि विपक्ष चर्चा से कतई नहीं भाग रहा है और वह लचीला रूख अपनाते हुए बिना किसी नियम के इस पर चर्चा को तैयार है लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी चर्चा से भाग रहे हैं। वह सदन में नहीं आ रहे।

उनके इस आरोप पर कड़ा प्रहार करते हुए संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने काले धन के खिलाफ संघर्ष शुरू किया है और सरकार नोटबंदी के मुद्दे पर चर्चा को तैयार थी , तैयार है और तैयार रहेगी।

उन्होंने कांग्रेस को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि विपक्षी पार्टी नोट जुगाड़ में लगी है और आज एक नया खुलासा सामने आया है।

अनंत कुमार ने कहा कि अगस्तावेस्टलैंड मामले में नया खुलासा हुआ है जिसमें ब्रिटिश हथियार डीलर क्रिश्चियन माइकल की डायरी में नोट लिखा हुआ है कि पिछली संप्रग सरकार के कार्यकाल में 16 मिलियन यूरो की राशि भारत के बेहद शक्तिशाली राजनीतिक परिवारों में से एक परिवार को दी गयी।

पिछली मनमोहन सिंह सरकार ने वर्ष 2010 में अगस्तावेस्टलैंड करार पर हस्ताक्षर किए थे।

अनंत कुमार ने अपने प्रहार की धार तेज करते हुए कहा, ‘‘ अगस्तावेस्टलैंड के नए खुलासे पर सदन में चर्चा होनी चाहिए….कांग्रेस के नोट जुगाड़ पर चर्चा होनी चाहिए, बसपा, सपा और कांग्रेस की भूमिका पर चर्चा होनी चाहिए। सरकार चर्चा से नहीं भाग रही है। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘ राहुल गांधी भाग रहे हैं, कांग्रेस भाग रही है और विपक्ष चर्चा से भाग रहा है।’’