इस दीपावली पर पहनें शाही परिधान

नयी दिल्ली, भारत की शाही विरासत से लोगों को रूबरू कराते हुए परिधान के क्षेत्र में काम करने वाले उमंग हथीसिंग ने शाही तरीके से तैयार किए गये परिधान यहां एक प्रदर्शनी में बिक्री के लिए रखे हैं।

हथीसिंग को भारत के ऐतिहासिक परिवारों में से एक का वंशज माना जाता है। अपने नए संग्रह में उन्होंने मुगलों और राजपूतों के समय के परिधान पेश किए हैं जिनके जरिये देश की कपड़ा विरासत को फिर से पुनर्जीवित करने की कोशिश की गयी है।

जापान, बहरीन और मैक्सिको में सफलतापूर्वक परचम लहराने के बाद इस संग्रह को भारत में प्रदर्शित किया जा रहा है। इसमें मुगलों का चोगा, राजपूतों के घेरे, शाल और यूरोपीय टोपी और जैकेटों को शामिल किया गया है। हथीसिंग ने बताया, ‘‘मैं पिछले चार सालों से इस क्षेत्र में हूं और मेरा एकमात्र लक्ष्य उत्कृष्ट परिधान बनाना है। मैं भारतीय विरासत को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ले जाना चाहता हूं।’’ उन्होंने बताया, ‘‘मेक इन इंडिया और अतुल्य भारत जैसी पहलों के बाद, मैं अपने देश को शाही परिधान के क्षेत्र में दुनिया के पटल पर लाने का प्रयास कर रहा हूं।’’